BaalVeer भारतीय टेलीविजन Sab TV पर दिखाया जाने वाला एक नाटक था। जिसमें गुजरात के रहने वाले Dev Joshi अच्छा किरदार निभाया है। जिसे सात परियों द्वारा अपनी अद्भुत शक्तियों का आशीर्वाद दिया जाता है। और हर परी का अलग नाम और काम है। जिसके बाद BaalVeer बड़ा होकर धरती पर आता है, और वह मानव और मेहर समेत अपने दोस्तों की मदद के लिए इन शक्तियों का उपयोग करता है? लेकिन भयंकर परी जैसी गलत परियां तोबा-तोबा के माध्यम से BaalVeer को बच्चों की सहायता करने से रोकने के लिए अलग-अलग जाल बिछाती रहती है। लेकिन BaalVeer लगा रहता है, मेहनत करता है। लेकिन बच्चों की सहायता जरूर करता है। मतलब कहने की बात यह है, कि कहीं भी कभी भी और किसी भी बच्चे को कोई भी परेशानी हुई? उन्होंने उसे आवाज लगाई, अब वह कहीं भी है। किसी भी हाल में है। फटाफट आया सहायता की और चला गया।

और इसी तरह उन्होंने निरन्तर, कड़ी मेहनत और मशक्कत के साथ 1111 Episode बनाएं, जो लोगों को बहुत पसंद आए। लेकिन अभी तक कारण पता नहीं चल पाया, कि उन्होंने इससे आगे Episode क्यों नहीं बनाएं। लेकिन जितने भी Episode बनाए सारे कमाल के और बेहतरीन जानकारी प्रदान करने वाले बनाएं। लेकिन कहीं ना कहीं वह मेरे हिसाब से कुछ गलती कर गए। गलती यह है कि उन्होंने अपने Episode में यह नहीं बताया, कि आप इसे अपने घर पर Try न करें।

और उनकी यही गलती कुछ बच्चों के लिए बहुत ही महंगी पड़ गई, जी हाँ ? सही सुना आपने। मैं बात कर रहा हूं, जिला देहरादून के एक छोटे से गांव के बच्चे के बारे में? वह बच्चा काफी समय से BaalVeer देखा करता था। और अचानक एक दिन उसके मन में आया, की क्यों ना मैं भी आज BaalVeer को बुला लूं ? फिर क्या था वह चढ़ गया, अपने घर की छत पर। पहले उसने एक-दो आवाज़ लगाई कोई नहीं आया? तब उसने ऊपर से छलांग लगाई, उसने सोचा कि अब तो जरूर आएगा। लेकिन कोई नहीं आया?

और इस तरह उस बच्चे ने ऊपर से गिर कर अपनी रीढ़ की हड्डी को तुड़वा लिया? और अगर आज मैं बात करूं उस बच्चे की, तो उसे पेशाब करने भी हाथों पर ले जाया जाता है। लेकिन काफी उपचार करने के बाद अब वह बच्चा कुछ हद तक ठीक है। थोड़ा बहुत चल लेता है।

तो दोस्तों यह था। BaalVeer और उसके बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी, जो शायद आपको पता नहीं थी। और अगर आपका अभी भी कोई भी सवाल या फिर सुझाव है, तो आप हमें कमेंट के माध्यम से बता सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *